Anemia in hindi
ANEMIA blood for test , Medical Concept , Diagnosis Iron deficiency doctor hand working Professional , aplastic anemia

Anemia in hindi

What is anemia in hindi

खून में हीमोग्लोबिन या रेड ब्लड सेल्स की कमी को एनीमिया कहते हैं। इस रोग में शरीर के ब्लड सेल्स लेवल सामान्य से कम हो जाता है। महिलाओं में एनीमिया की शिकायत ज्यादा पाई जाती है। इसकी मुख्य वजह मासिक धर्म होता है। क्या आप जानते हैं कि एनीमिया क्या है, एनीमिया के लक्षण (animiya ke lakshan) क्या है, एनीमिया होने के कारण क्या-क्या होते हैं, और एनीमिया का लिए घरेलू उपचार कैसे किया जाता है।

एनीमिया का अर्थ है- शरीर में खून की कमी होना।
यह तब होता है, जब शरीर के रक्त में लाल कणों या कोशिकाओं के नष्ट होने की दर, उनके निर्माण की दर से अधिक होती है।
किशोरावस्था और रजोनिवृत्ति के बीच की आयु में एनीमिया सबसे अधिक होता है।
भारत में 80 प्रतिशत से अधिक गर्भवती महिलाएं एनीमिया से पीड़ित हैं।
गर्भवती महिलाओं को बढ़ते शिशु के लिए भी रक्त निर्माण करना पड़ता है। इसलिए गर्भवती महिलाओं को एनीमिया होने की संभावना होती है।
एनीमिया एक गंभीर बीमारी है। इसके महिलाओं को अन्य बीमारियां होने की संभावना और बढ़ जाती है।
 एनीमिया से पीड़ित महिलाओं की प्रसव के दौरान मरने की संभावना सबसे अधिक होती है।
Anemia
Anemia

causes of anemia in hindi

सबसे प्रमुख कारण लौह तत्व वाली चीजों का उचित मात्रा में सेवन न करना।
  • मलेरिया के बाद जिससे लाल रक्त करण नष्ट हो जाते हैं।
  • किसी भी कारण रक्त में कमी, जैसे-
  • शरीर से खून निकलना (दुर्घटना, चोट, घाव आदि में अधिक खून बहना)
  • शौच, उल्टी, खांसी के साथ खून का बहना।
  • माहवारी में अधिक मात्रा में खून जाना।
  • पेट के कीड़ों व परजीवियों के कारण खूनी दस्त लगना।
  • पेट के अल्सर से खून जाना।
  • बार-बार गर्भ धारण करना।

Symptoms of anemia in hindi

  • शरीर  में लौह तत्व की कमी एनीमिया कहलाती है जिसे अक्सर समझ नहीं आते हैं। यह रोग एक आम बीमारी मानी जाती है। …
  • एनीमिया के लक्षण
  • थकान
  • आंखो में पीलापन अगर आंखों में पीलापन हो जाता है, तो यह सबसे अच्छा तरीका है एनीमिया के बारें में जानने का। …
  • टेंशन …
  • हाथ-पैर सुन्न हो जाना …
  • बाल झड़ना

Treatment of anemia in hindi

  • एनीमिया से पीड़ित व्यक्ति को अपने डाइट में थोड़ा सा बदलाव करना जरुरी होता है। अपने हाइट में आयरन वाली चीजें ज्यादा से ज्यादा लें। इसके लिए चकुंदर, गाजर, टमाटर और हरी पत्तेदार सब्जियों को शामिल करें।
  • खाने में अधिक गुड और चना का इस्तेमाल करें। जो कि हीमोग्लोबिन बढ़ाने में मदद करेगा।
  • अगर आयरन की कमी अधिक हो गई है तो डॉक्टर से सलाह लेकर आयरन की टेबलेट लेना शुरु करेंanemia in hindi

Home remedies

आम तौर पर असंतुलित भोजन के असर के कारण भी एनीमिया होता है। एनीमिया के कुछ प्रकारों से बचा नहीं जा सकता क्योंकि वह अनुवांशिक होते हैं। लेकिन मूल रूप से डायट में थोड़ा बदलाव लाने की जरूरत होती है। एनीमिया से बचाव के लिए आपको अपनी जीवन शैली में थोड़ा परिवर्तन लाना पड़ेगा। एनीमिया मुख्यत शरीर में खून की कमी से होता है। एनीमिया से बचाव के लिए ऐसे आहार का सेवन करना चाहिए जिससे शरीर में खून की मात्रा बढ़े जैसे चुकंदर, गाजर, पालक, बथुआ और अन्य हरी सब्जियां। काले चने और गुड़ में भी आयरन भरपूर मात्रा में होता है। सब्जी बनाने के लिए लोहे की कड़ाही का इस्तेमाल करें।जैसे-

एनीमिया के रोगी को भरपूर मात्रा में दूध का सेवन करना चाहिए।

-केला, सेब आदि ताजे फलों का सेवन करना चाहिए।

-सब्जियों में हरी पत्तेदार सब्जियां, चुकंदर, शकरकंद और अनाज को खाने में शामिल करें।

-विटामिन-बी और फॉलिक एसिड को डाईट में शामिल करें।

-किशमिश और सूखे आलू बुखारे भी अपनी डायट में शामिल करें।

-विटामिन-सी आयरन को शरीर से कम नहीं होने देता। इसके लिए आंवला, संतरा, मौसमी जैसी चीजों को सेवन करना चाहिए। anemia in hindi

-मूंगफली का मक्खन आयरन युक्त होता है। यदि आपको मूंगफली का मक्खन पसंद ना हो तो आप भुनी हुई मूंगफलियां भी खा सकते हैं।

-साबुत अनाज की रोटी आयरन से युक्त होती है। यह आयरन की कमी को पूरा करने में प्रभावशाली होती है।

-मछली आयरन युक्त होती है और अनीमिया में उपयोगी होती है।

-खजूर आयरन से युक्त होते हैं और एनीमिया से पीड़ित लोगों के लिए लाभदायक होता है।

-चाय और कॉफी का सेवन कम करना चाहिए।

-विटामिन-सी का सेवन ज्यादा करना चाहिए।

-अधिक पानी पीना चाहिए।

This Post Has 2 Comments

  1. Karuna

    Nice information… 👍👍

  2. turkce

    Looking around I like to surf around the internet, regularly I will just go to Stumble Upon and follow thru Donni Omero Gilda

Leave a Reply